उत्तर प्रदेश में कोरोना काल में सोमवार से कक्षा 1 से लेकर के 5 तक के बच्चों की हुई पढ़ाई शुरू……

कक्षा एक से पांच तक के विद्यार्थियों को भौतिक रूप से पढ़ाने के लिए सोमवार से स्कूल खुल गए। पहले दिनो निजी स्कूलों में विद्यार्थियों का शिक्षकों ने ताली बजाकर और तिलक लगाकर स्वागत किया वहीं, परिषदीय स्कूलों में उत्सव का आयोजन किया गया। खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिया गया था कि कक्षा एक से पांच के विद्यार्थियों के 11 माह बाद स्कूल पहुंचने पर भव्य स्वागत कराया जाए। जिससे विद्यार्थियों में विशिष्टता का भाव उत्पन्न हो और वह स्कूलों में जाने के लिए आकर्षित हों। विद्यार्थियों, जन समुदाय, स्कूल प्रबंध समिति के सहयोग से स्कूलों में उत्सव का आयोजन किया गया व्हाट्स एप के माध्यम से अभिभावकों व समुदाय को स्कूल खुलने की जानकारी दी गई थी इस दौरान कोरोना संक्रमण के संबंध में शासन स्तर से जारी दिशा-निर्देशों का पालन भी किया गया।

पहले दिन स्कूलों को गुब्बारे, रंगोली, झंडियों आदि से सजाया गया था इसे लेकर बीएसए स्तर से निर्देश भी जारी किए गए थे। बच्चों के छोटे-छोटे समूह बनाकर कोरोना संक्रमण के दौरान के अनुभव पर भी चर्चा की गई और विद्यालय खुलने पर उनकी प्रतिक्रिया और उत्साह भी जाना गया इस दौरान स्कूल और पढ़ाई के साथ खेलकूद भी कराया गया।

शासन की ओर से जारी रोस्टर के अनुसार पहले दिन (सोमवार को) स्कूलों में कक्षा एक और पांच के विद्यार्थियों को ही पहुंचना था। प्रत्येक दिन अलग-अलग कक्षा के विद्यार्थियों को बुलाया गया है।…

Share this News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *