रास पूर्णिमा पर श्री जगन्नाथ मंदिर आगरा में हुआ महा उत्सव…

श्री श्री जगन्नाथ मंदिर (इस्कॉन आगरा) में दो दिनों तक अपार उत्साह के साथ देव दीपावली मनाई गई। दूसरे दिन जहां भक्तों ने महाप्रभु के राजाधिराज वेश दर्शन किए तो वहीं रास पूर्णिमा महा-उत्सव ने भक्तों को आनंदित किया।

इस्कॉन आगरा के अध्यक्ष अरविंद स्वरूप दास ने बताया कि विशेष पूजा अर्चना की वजह से भोर होते ही मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं का आवागमन शुरू हो गया था। दिन भर भजन, कीर्तन, पूजा पाठ से भक्तजन आनंदित होते रहे और भगवान जी अपलक झलक पाने को आतुर रहे। शाम 06.30 से रात्रि 09.30 बजे तक महाप्रभु के राजाधिराज वेश दर्शन हुए।

राजाधिराज के दर्शन करने आए सैकड़ों भक्तजनों ने पलक पाँवड़े बिछाकर राजाधिराज के दर्शन किए और खुद को धन्य समझा। पग-पग पर लोग भाव विह्ल होकर भगवान की सुंदर छवि को अपलक निहार रहे थे। दूसरी ओर सांय 06.00 बजे से ही रास पूर्णिमा महा उत्सव शुरू हो गया था जो रात्रि 09.00 बजे तक जारी रहा।

शिक्षिका एवं नृत्य प्रशिक्षिका अर्चना कुकरेजा एवं श्रुति बंसल ने निर्देशन में लोग खुद को राधा कृष्ण की भक्ति में रंगकर डांडिया नृत्य आदि लीलाओं का आनंद ले रहे थे। आस्था के इस कुम्भ में लोग खुद को साक्षी बनाकर प्रभु की एक झलक पाने को लालायित थे। राधा माधव का श्रंगार करने के साथ ही विशेष पूजा अर्चना की जा रही थी और मंदिर को आलौकिक रूप से सजाया गया था।

ऐसा माना जाता है कि रास पूर्णिमा के दिन भगवान कृष्ण ने दिव्य प्रेम का महारास किया था। उन्होंने राधा रानी और गोपियों संग महाराज रचाया था। ऐसे में इस दिन को श्रद्धालुओं द्वारा श्रद्धा और आस्था के साथ रास पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है।

इस अवसर पर मंदिर में विशेष साज सज्जा, मेहमानों और श्रद्धालुओं की आगवानी फूड फॉर लाइफ इस्कॉन आगरा कीं को-ऑर्डिनेटर अशु मित्तल, राहुल बंसल, शैलेन्द्र अग्रवाल आदि ने की।

Share this News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *